मार्ग चयन

वो जो मार्ग था, कुछ सरल नही था।

बहुत कम लोग जाते थे वहां

क्या मिलेंगा वो पता नही था।

इसिलए तो कोई जा नही रहे थे कोई

डर था लोगों में,

हा, विश्वाश था, अगर सही तरीके से आगे बढ़े तो सफलता पक्की है।

लेकिन शायद खुद पे उतना विश्वास नही था लोगो को।

की हा में चल पाऊंगा सही तरह से।

शायद इतना साहस नही था,

अन्यथा चले जाते न।

एक आखिरी बार तो जाना था उस रास्ते पे,

एक ही बार तो सहना था।

कुछ साल तक लड़कर मिलने वाला था अपूर्व सुख,

लेकिन शायद अंदर ही अंदर डर था,

डर था की अगर जिसके लिए निकले वह न मिले और जो है वह भी चला न जाए।

लेकिन कुछ ज्यादा पाने के लिए कुछ बड़ा त्याग करना ही रहेगा।

यही नियम है दुनिया का, आगे बढ़ने का,

प्रगति का। आज़ादी का।

जैसे क्रांतिकारियोंने सम्पूर्ण आज़ादी के लिए छोड़ दी अपनी सुखशांती से भरी खुशहाल जिंदगी।

Advertisements

5 Comments Add yours

  1. neha98blog says:

    The cogitation that your writing induces in every author’s mind is a proof of your talent,which will be recognized one day.

    Liked by 1 person

    1. D!vY@ng Sh@h says:

      Thank you, neha! Your response to my writings always motivates me. You are constant support system for me 😊

      Like

      1. neha98blog says:

        I don’t know if I deserve such words of appreciation,but thank you for being the best reader than I could ever get.

        Liked by 1 person

        1. D!vY@ng Sh@h says:

          There are some reader I always waiting for and over that there are very few reader who respond with their expressions for which I eagerly wait. You are the one who always share your views over my writings. Thanks for your time, support, motivation and lot more… Neha.. 😊😀

          Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s